रविवार, 17 मई 2015

जीवन और आशा

जीवन और आशा 
 (१)
जीवन है तो गति है 
गति है तो घर्षण है 
घर्षण है तो संघर्ष है
संघर्ष है तो शुष्कता है 
शुष्कता है तो भंगुरता है 
कुछ चिर परिचित से 
नहीं लगते ये शब्द
अगर हाँ तो क्या 
ये जीवन है 
ये संबंध है 
ये रिश्ते हैं 
या ये रिसते हैं 

(२)
जीवन है तो गति है 
गति है तो घर्षण है 
घर्षण है तो ऊष्मा है 
ऊष्मा है तो उर्जा है 
उर्जा है तो 
उर्जावान पंचतत्व 
पंचतत्व है तो आरंभ है 
आरंभ है तो अंत है 
अंत है तो 
नए जीवन की आशा है 
आशा है तो जीवन है 

14 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (18-05-2015) को "आशा है तो जीवन है" {चर्चा अंक - 1979} पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक
    ---------------

    उत्तर देंहटाएं
  2. मेरी पोस्ट को चर्चामंच में स्थान देने हेतु धन्यवाद शास्त्री जी.

    उत्तर देंहटाएं
  3. आशा है तो जीवन है ...
    दोनों रचनाएं प्रभावित करती हुयी ... जीवन का सत्य कहती हुई ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. दोनों बेहतरीन ....प्रभावी रचनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  5. शीर्षक को सार्थक बनाती, जीवन और आशा अटूट सम्बन्ध दर्शाती, बहुत प्रभावी और उम्दा कृतियाँ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुन्दर व सार्थक प्रस्तुति..
    शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. आशा और जीवन से पूर्ण कविता. बहुत दिनों बाद आपको पढ़ रहा हूँ। अब नियमित समझे मुझे।

    उत्तर देंहटाएं
  8. जीवन के अनेक रंगों में से दो रंग- श्वेत-श्याम सा जीवन ।

    उत्तर देंहटाएं
  9. Good blog. Padhkar khushi hoti hai. Aur aapne apna parichay bhi itna poetic diya hai.

    उत्तर देंहटाएं
  10. आशा और निराशा जीवन के दो पहलू हैं, आशा है तो जीवन है ...बहुत सुंदर रचनाएँ !!

    उत्तर देंहटाएं
  11. आदरणीय रचनाजी मेरा ब्लॉग join करने के लिए बहुत बहुत आभार। आपको एक AdSenseEBook भेजनी है कृपया मेरी ईमेल ID anuragchoudhary35@yahoo.in पर अपनी ईमेल ID भेजें।

    उत्तर देंहटाएं
  12. aasha ke bagair jiwan jine ki prerna hi khtm ho jayegi...umda.

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत सुन्दर
    जो आदि है वही तो अन्त है ......... वाह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...