रविवार, 17 अप्रैल 2011

टोटका


टोटका



न जाने क्यों आजकल
इक अजीब सा डर सताने लगा है
डर सताता है ज़माने की निगाहों का
कहीं हमारी प्यार भरी जिंदगी को
ज़माने की नज़र न लग जाये,
गली मोहल्ले और दादी माँ,
सभी के टोटके अपनाए
पर चैन नहीं आया 
सुना है हर टोटके का तोड़ भी होता है....
पर आज मैं 
इक बेजोड़, बेतोड़, रामबाण टोटका ले ही आई हूँ.
सुनो ! किसी से कहना मत ...
अब से मैं बनी रहूंगी भ्रष्टाचार
और तुम 
पुलिस के ऊँ......चे अफसर. 
दुनिया की नज़रों, में सबके सामने.
हम दोनों छत्ती....स 
एकांत,अकेले कमरों और पलों में तिर....सठ ..
बोलो, अपने प्यार को ज़माने की जालिम नज़र से
बचाने के लिए क्या मंजूर है तुम्हें ये टोटका.     

55 टिप्‍पणियां:

  1. वाह क्या टोटका है ....बनी रहूंगी वही ....सार्थक रचना आपका आभार

    उत्तर देंहटाएं
  2. छत्तीस और तिरेसठ का टोटका तो बड़ा मज़ेदार और लाभदायक प्रतीत होता है ।
    tempting लेकिन attempt करने में भी तो डर लगता है ।

    एक अलग सी दिलचस्प पोस्ट और रचना ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर टोटका है यह.
    बस कोई अन्ना हजारे न आ जाए बीच में.
    ३६ और ६३ भी खूब रहे .

    उत्तर देंहटाएं
  4. अच्छा टोटका है... लेकिन इसका भी तोड़ है, अन्ना हजारे!
    अच्छी कविता, सटीक व्यंग्य!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. बड़ा कारगर है ये आजकल । सच की दिलचस्प प्रस्तुति । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. वो प्यार नही एक खेल हे जो टोटको पर चले ओर जमाने से डरे, अजी हम तो खुल्मा खुला प्यार करते हे...
    बहुत सुंदर रचना,

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (18-4-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

    http://charchamanch.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  8. azeeb itfaak hai sabre paper padhne baithi to wahan bhi isi vshya par charcha rahi ,bahut sundar likha hai
    हम दोनों छत्ती....स एकांत,अकेले कमरों और पलों में तिर....सठ ..बोलो, अपने प्यार को ज़माने की जालिम नज़र सेबचाने के लिए क्या मंजूर है तुम्हें ये टोटका.

    उत्तर देंहटाएं
  9. हा हा , एकदम मजेदार और डेडली काम्बिनेसन .

    उत्तर देंहटाएं
  10. गंभीर व्यंग्य सहजता से कह दिया गया है.. बढ़िया कविता..

    उत्तर देंहटाएं
  11. उद्देश्य अच्छा है और प्यार के लिए कुछ भी करना चाहिए ! शुभकामनायें !!

    उत्तर देंहटाएं
  12. वाह ! क्या टोटका है...
    वैसे युद्ध और प्रेम में सब जायज़ है...
    भावनाओं की सुन्दर अभिव्यक्ति ...हार्दिक बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  13. वाह जी
    बहुत बढिया |सुना है संत्री मंत्री सब इन्ही टोटको के सहारे जीते है |

    उत्तर देंहटाएं
  14. Ek dum sahi totka h.... u always impress me wid your out of da box ideas.. simply loved dis one too like ur ol other posts :)

    उत्तर देंहटाएं
  15. aapke totke ko nazar na lage jee......


    apane oyar ko nazar se bachane ke liye kadam usulo kee kabr par hee uthega ......

    उत्तर देंहटाएं
  16. aapke totke ko nazar na lage jee......


    apane oyar ko nazar se bachane ke liye kadam usulo kee kabr par hee uthega ......

    उत्तर देंहटाएं
  17. करारा कटाक्ष।
    ..छत्तिस..तिरसठ को नौ दो ग्यारह करना पड़ेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  18. आदरणीय रचना दीक्षित जी
    नमस्कार !
    क्या टोटका है सुन्दर अभिव्यक्ति..... सटीक व्यंग्य!!

    उत्तर देंहटाएं
  19. बढ़िया टोटका ...कारगर साबित होना लाजमी है ..तीखा व्यंग्य

    उत्तर देंहटाएं
  20. सार्थक रचना
    बहुत सुन्दर टोटका है यह

    उत्तर देंहटाएं
  21. बहुत खूब टोटका है जी हम भी अजमा के देखते हैं |
    सुन्दर रचना |

    उत्तर देंहटाएं
  22. वाह... बहुत खूब कहा है आपने ।

    उत्तर देंहटाएं
  23. यह कविता पढ़ते ही खूब हंसी आई और अचानक हंसी रूक गई और काली बदलियों की घटा सी छा गई, मन उदास हो उठा फिर मन क्रोधित हो उठा। यह कैसा टोटका है पहले हंसाता है फिर रोने भी नहीं देता। उलझे हालातों को सुलझे शब्दों में बखूबी पिरोया गया है।

    उत्तर देंहटाएं
  24. अपने प्यार को ज़माने की जालिम नज़र से
    बचाने के लिए क्या मंजूर है तुम्हें ये टोटका. ...bahut jabardast

    उत्तर देंहटाएं
  25. वाह ! वाह ! क्या बढिया हल निकाला है बुरी नजरों से बचने का, इसीलिये आजकल कुछ लोग ज्यादा ही फलफूल रहे हैं !

    उत्तर देंहटाएं
  26. कमाल का टोटका. सुन्दर व्यंग .

    उत्तर देंहटाएं
  27. अच्छा कटाक्ष किया है टोटके के साथ...

    उत्तर देंहटाएं
  28. क्या कमाल का टोटका है...सटीक कटाक्ष ...बहुत सुन्दर

    उत्तर देंहटाएं
  29. चर्चा मंच के साप्ताहिक काव्य मंच पर आपकी प्रस्तुति मंगलवार 19 - 04 - 2011
    को ली गयी है ..नीचे दिए लिंक पर कृपया अपनी प्रतिक्रिया दे कर अपने सुझावों से अवगत कराएँ ...शुक्रिया ..

    http://charchamanch.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  30. बहुत बढ़िया..ज़बरदस्त टोटका ...... सटीक

    उत्तर देंहटाएं
  31. क्या टोटका है । मानना पडेगा ।

    उत्तर देंहटाएं
  32. उत्तम कविता के माध्यम से एक करारा व्यंग्य

    उत्तर देंहटाएं
  33. जी वाकई खूबसूरत टोटका। ऐसी रचनाएं कभी कभी पढने को मिलती हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  34. बहुत ही अच्छा लगा ये टोटका ... सटीक व्यंग्य........

    उत्तर देंहटाएं
  35. आधुनिक टोटका ... अच्छी लगी रचना ...

    उत्तर देंहटाएं
  36. रचना जी,नमस्कार.
    "अब से मैं बनी रहूंगी भ्रष्टाचार
    और तुम
    पुलिस के ऊँ......चे अफसर."
    आपके इस टोटके को तो पूरा देश अपनाने को तैयार बैठा है,मगर उस अन्ना जी का क्या करें जो इन सबका तोड़ ढूंडने में लगे हैं.व्यंग्य की मीठी चासनी में डूबी यह रचना अखबार से बनाई आपकी पतंग सा ही प्रभाव छोड़ती है.अत्यंत सामयिक एवं संदेशपरक.

    उत्तर देंहटाएं
  37. गंभीर wyangy ki sahaj prastuti... सुन्दर...
    सादर..

    उत्तर देंहटाएं
  38. बेहतरीन, शंका या समाधान। दिलचस्प प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  39. rachna ji totko ke baare me suna to bahut hai .kahin kahin raste me bhi kai baar dekha hai aur dekhte hi amma ki seekh yaad aa jaati hai raste me kahin kata nibi ,mirch ya fuul pade mile to uanhe langhana mat .
    lekin jis tarah se aapne iske baare me bayaan kiya hai vah bahut bahut hi achha laga
    bahut hi badhai prastuti ke liye bahut bahut
    badhai
    ponam

    उत्तर देंहटाएं
  40. जाट देवता की राम-राम,
    लगे रहो, टोटको में देखे क्या बिगाड लेंगे ये?

    उत्तर देंहटाएं
  41. vigyani kitne huye , huye na koyi sayan,
    totka mantra ka paath kar,paa gaye jag ka gyaan...

    bahut accha kaha aapne Rachna ji...

    Bin TOTKA sab soona laage...
    Totak se hi kismat jaage,...

    उत्तर देंहटाएं
  42. अनुभूती और अभिव्यक्ति की एक सुन्दर मिशाल

    उत्तर देंहटाएं
  43. पल में ३६ पल में ६३,ज़बरदस्त टोटका .

    उत्तर देंहटाएं
  44. Very informative post. Thanks for taking the time to share your view with us.

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...