रविवार, 13 मार्च 2011

गो ग्रीन

गो ग्रीन
 


वो कुरिअर ब्वाय से
फूलों की डिलीवरी
तुम्हरे ऍस एम् ऍस
वो मुहब्बत भरे ई मेल
कितने पुराने ख्यालों
के हो तुम आज भी,
छोड़ो ये सब 
आ जाओ आज मेरे सामने 
थमा दो मुझे 
अपनी आँखों में लिखा 
मेरे नाम एक प्रेम पत्र 
मैं सीने से लगा उसे पढूं 
तुम मुझे नज़र भर निहारो
पूरी शाम औ रात
आओ शामिल हो जाएँ 
आज की नई धारा में 
चलो प्यार में ग्रीन हो जाएँ .

50 टिप्‍पणियां:

  1. गो ग्रीन ... है हमारी तरफ से.. नए प्रतिमान से लिखी गई कविता...

    उत्तर देंहटाएं
  2. थमा दो मुझे
    अपनी आँखों में लिखा
    मेरे नाम एक प्रेम पत्र

    प्रेम प्रदर्शन का यह आधुनिक रूप बहुत अनोखा लगा ।
    ग्रीन में गोरा रंग मिलकर बहुत हसीन हो गाया है ।

    सुन्दर सन्देश देती रचना ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. रचना जी बहुत सुन्दर । तो आधुनिक प्रेमी जो SMS के जरिये प्यार के इजहार को ही ' गो ग्रीन' समझते हैं( और कुछ हद तक ठीक भी हैं कयोंकि बेचारे कम से कम कागज की बरबादी से तो बचा रहे हैं।) ,अब उन्हें आपकी कविता की सुन्दर अभिव्यक्ति के सुकुमार तरीके ज्यादा ' गो ग्रीन' लगेंगे। बस उन्हे इस खतरे से सावधान रहना होगा कि उनके इस सुकोमल इजहारे प्यार से रकीबों के तेवर ' गो रेड' न हो जायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. :) :) सुना था प्यार में लोग लाल हो जाते हैं ...ग्रीन की कल्पना बढ़िया लगी :):)

    उत्तर देंहटाएं
  5. सुन्दरतम परिकल्पना प्रेम के प्राकृतिक स्वरूप की।

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह! बिलकुल नया अंदाज! गो ग्रीन!

    उत्तर देंहटाएं
  7. नयी कल्पना..बहुत सुन्दर और भावमयी सार्थक सन्देश..

    उत्तर देंहटाएं
  8. गो ग्रीन!
    एक नया अंदाज !
    बढ़िया कल्पना ....

    उत्तर देंहटाएं
  9. थमा दो मुझे
    अपनी आँखों में लिखा
    मेरे नाम एक प्रेम पत्र
    bahut sunder

    उत्तर देंहटाएं
  10. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (14-3-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

    http://charchamanch.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  11. सचई मुच्ची मुझे यह गो ग्रीन बहुत अच्छी लगी:)

    उत्तर देंहटाएं
  12. प्रकृति के रंग में रंगी प्यार की नयी परिकल्पना ...

    उत्तर देंहटाएं
  13. पढ़ कर मन हरा हो गया . सुन्दर कल्पनाशीलता

    उत्तर देंहटाएं
  14. आओ शामिल हो जाएँ
    आज की नई धारा में
    चलो प्यार में ग्रीन हो जाएँ ....

    नई उपमाओं की सुन्दर कविता के लिए बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
  15. @थमा दो मुझे
    अपनी आँखों में लिखा
    मेरे नाम एक प्रेम पत्र..
    बेहतरीन अंदाज़-अच्छा लगा,आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  16. थमा दो मुझे
    अपनी आँखों में लिखा
    मेरे नाम एक प्रेम पत्र

    :-) behtreen andaz

    उत्तर देंहटाएं
  17. सुन्दरतम परिकल्पना प्रेम के प्राकृतिक स्वरूप की| धन्यवाद|

    उत्तर देंहटाएं
  18. प्यार का ये नया अंदाज भा गया

    उत्तर देंहटाएं
  19. एक दम आधुनिक तकनीक से कही गयी
    हाई टेक कविता
    परिकल्पनाओं को नया आयाम
    वाह .... गो ग्रीन !!

    उत्तर देंहटाएं
  20. ये वक्त ही ग्रीन होने का है फिर प्यार में भी क्यूँ न थोड़े से हरे हो जाएँ । बहुत अच्छे ग्रीन ख्यालात, बहुत सुंदर कविता ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. Adbhut sahitya -samvedana ka parichaya
    vividhtayen safaltaon ka rahabar hua karti hain ,maine pahali bar kuchh alag padha ,blogaron ki jamat men .suhkhad . aabhar.

    उत्तर देंहटाएं
  22. ये दिन क्या आए,
    लगे फूल हँसने
    देखो बसंती बसंती
    होने लगे मेरे सपने.
    और आपने प्यार की इस दुनिया को भी ईको फ़्रेण्डली बना दिया! गो ग्रीन!! बहुत सुंदर!!

    उत्तर देंहटाएं
  23. प्रकृति का सन्देश लिए प्रेम की अभिव्यक्ति..... बहुत सुंदर ...बहुत अलग सी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  24. नए प्रतिमानों और विम्बों के साथ खूबसूरत अभिव्यक्ति !
    आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  25. सुंदर है प्रेम में लीन-ग्रीन ग्रीन होने का भाव
    बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  26. प्यार में ग्रीन होना ... गुलाबी होना तो सुना है ...
    आज के पर्यावरण को देखते हुवे ग्रीन होना ही वाजिब है ... अच्छी रचना है ..

    उत्तर देंहटाएं
  27. यह बढ़िया मूड रहा :-) शुभकामनायें ! !

    उत्तर देंहटाएं
  28. rachna ji
    kya baat hai ----
    aaj to blog par muhabbat ke geet hi gun gunaye ja rahe hain .aise me aapki pyar bhari pyara sa hath karta hua pranay nivedan bahut hi achha laga.
    meri tabiyat bhi thodi-thodi hari -bhari si ho gai aapki green-green si kavita ko padh kar lalima bhi muskan kher gai.
    badhiya prastuti
    poonam

    उत्तर देंहटाएं
  29. सुन्दर सन्देश देती रचना बढ़िया लगी.....

    उत्तर देंहटाएं
  30. प्यार करने से पहले कृपया पर्यावरण का ख्याल रखें , अच्छी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  31. waah ji kya baat hai....greeeeeeeeeeeeeeeen???????

    naya experiment. good hai ji. lage raho bhai holi hai. :)

    उत्तर देंहटाएं
  32. बेहतरीन अंदाज़-अच्छा लगा,आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  33. चलो प्यार में ग्रीन हो जाएँ...हैरान हूँ आपकी कल्पनाशीलता पर. इसे ही कहते हैं दूर की कौड़ी ढूंढ लाना. यह एक ऐसी रचना है जिसे मुझे लोगों को सुनने में बेहद खुशी होगी. ओह ! कितनी प्यारी है यह कविता.

    उत्तर देंहटाएं
  34. आपको एवं आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  35. थमा दो मुझे
    अपनी आँखों में लिखा
    मेरे नाम एक प्रेम पत्र.....

    roomani andaj

    उत्तर देंहटाएं
  36. बहुत सुन्दर ! उम्दा प्रस्तुती!

    आपको और आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  37. आ जाओ आज मेरे सामने
    थमा दो मुझे
    अपनी आँखों में लिखा
    मेरे नाम एक प्रेम पत्र
    मैं सीने से लगा उसे पढूं
    तुम मुझे नज़र भर निहारो
    पूरी शाम औ रात
    आओ शामिल हो जाएँ
    आज की नई धारा में
    चलो प्यार में ग्रीन हो जाएँ .
    wah!wah!wah!
    Holee bahut,bahut mubarak ho!

    उत्तर देंहटाएं
  38. Go Green, a unique and wonderful approach.

    हफ़्तों तक खाते रहो, गुझिया ले ले स्वाद.
    मगर कभी मत भूलना,नाम भक्त प्रहलाद.

    होली की हार्दिक शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  39. आप को सपरिवार होली की हार्दिक शुभ कामनाएं.

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  40. होली की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  41. होली का त्यौहार आपके सुखद जीवन और सुखी परिवार में और भी रंग विरंगी खुशयां बिखेरे यही कामना

    उत्तर देंहटाएं
  42. आपको और समस्त परिवार को होली की हार्दिक बधाई और मंगल कामनाएँ ....

    उत्तर देंहटाएं
  43. Hello! I just wanted to take the time to make a comment and say I have really enjoyed reading your blog.

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...